--> -->

कंडेंसर क्या है What is Capacitor? Type Of Capacitor?

 कंडेंसर या केपसीटर किसे कहते हैं : वश डिज़ाइन जो बिदुत को स्थिर चार्ज के रूप मे एक जगह एकत्रित करे उसे कंडेंसर या केपासीटर कहते हैं अर्थात कोई दो चालक जिसको किसी इंसुलातींग प्रदार्थ के द्वारा अलग अलग रख कर एलेक्ट्रिक्क छेत्र स्थापित किया जाए उसे कंडेंसर या कपासीटर कहते हैं 

सोल्डरिंग क्या है और Soldering कितने प्रकार की होती है

कंडेंसर की क्षमता (Capacity of Condenser)

  • कंडेंसर की क्षमता कई बाटो पर निर्भर करती है
  • प्लेटो के छेत्रफल के सीधे अनुपात मे
  • प्लेटो के बीच की दूरी केआर उल्टे अनुपात मे
  • प्लेटो के बीच के इन्स्युलेशन की प्रकृति पर
  • तापमान पर

कंडेंसर से संबन्धित परिभाषये

इलैक्ट्रिक फील्ड 

किसी भी चार्ज के चरो तरफ का स्थान जहा पर एलेक्त्र्कि चार्ज का अनुभव होत है उसे इलैक्ट्रिक फील्ड कहते हैं 

एलेक्ट्रोस्टेटिक इंडक्शन 

जब कोई बिना किसी चार्ज वस्तु किसी चार्ज वाली वस्तु के पास रखी होती है या जाती है उसमे भी कुछ चार्ज आ जाता है चार्ज obsorve करने की इस विधि को एलेक्ट्रोस्टेटिक इंडक्शन कहते है

कैपासिटी 

किसी कंडेंसर मे चार्ज ग्रहण करने की क्षमता को उसकी कैपासिटी कहते हैं इसकी इकाई फ़ैरेड है

कंडेंसर के समूह

कंडेंसर को तीन प्रकार से जोड़ा जाता है
    : left;">
  • सीरीज मे 
  • पेररेलल मे
  • सीरीज पेरेलल मे
  • कंडेंसर कितने तरह के होते हैं (Type Of Condenser)

    क्षमता के आधार पर कंडेंसर को 2 भागो मे बता गया है
    • फ़िक्स्ड कंडेंसर
    • वारियाबल कंडेंसर



    Please Select Embedded Mode For Blogger Comments

    •◇◇●[Advertisement ]●◇◇○•

    Billboard Ad

    •◇◇●[Advertisement ]●◇◇○•